इससे ज्यादा प्यार क्या कोई करेगा?

9 अप्रैल

कभी गम ना देना उसे जिंदगी मे जो तुम्हारे लिये सिर्फ खुशी चाहता है,
जो पलको पे हज़ारो आँसु उठा के होठों पर तुम्हारे हँसी चाहता है,
इससे ज्यादा प्यार क्या कोई करेगा तुम्ही ये बता दो जरा सोच के,
खुद की मनहूसीयत न छीन ले होठो से मुस्कान तेरी,
सिर्फ इसलिये नही बनाना तुम्हे हमनशीं चाहता है,
…………………Shubhashish(2004)

5 Responses to “इससे ज्यादा प्यार क्या कोई करेगा?”

  1. limit अप्रैल 11, 2008 at 12:01 अपराह्न #

    wah kya likha hai kmaal ka hai, last ke two lines really tocuhing the heart. really good one. keep it up.

    regards

  2. Shrish सितम्बर 10, 2008 at 11:20 पूर्वाह्न #

    arey yaar tumhara to main Fan ho gaya hu……dil sey kah raha hu ………
    Man gaye guru jee

  3. Shubhashish Pandey सितम्बर 11, 2008 at 4:25 अपराह्न #

    shrish ji aap ki sabhi tippadiyon ke liye bahut bahut dhanyvad

  4. servesh dubey नवम्बर 7, 2008 at 12:55 अपराह्न #

    पान्डे जी
    आप्ने अपनी कविता मे सत्य को उतार दिया

    सप्रेम धन्यवाद

  5. Pushkar Chaubey जनवरी 14, 2011 at 10:17 पूर्वाह्न #

    खुद की मनहूसीयत न छीन ले होठो से मुस्कान तेरी,
    सिर्फ इसलिये नही बनाना तुम्हे हमनशीं चाहता है,

    bhaaree lines..

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: